Heart touching Love Poem in Hindi for Girlfriend

Heart touching Love Poem in Hindi for Girlfriend

Adhuri Hasrate has a collection of heart touching love poem in Hindi for girlfriend.

Romantic poems in Hindi for Girlfriend : आसमाँ   में   सितारें  यूँ   सजाते   रहिएगा

Assman Me Sitare Yun Sajate Rahiyega

आसमाँ   में   सितारें  यूँ   सजाते   रहिएगा
माथें   पर   बिंदिया   रोज  लगाते  रहिएगा

आपकी  तबस्सुम   दवा  है  कइयों  खातिर
लब-ए-शीरीं   पर  हमेशा इसे लाते रहिएगा

जब हँसती हैं तो नूर बरसता है फ़जाओं में
हो वक़्त कैसा भी, यूँ ही मुस्कुराते  रहिएगा

आब-ए-हैवाँ बरसता है जब बोलती हैं आप
शीरीं-जबाँ से हम मुर्दों को जिलाते रहिएगा

और भी कत्ल ना करें आपकी  हसीं  आँखे
सो  ज़ुल्फों  से  इन्हें  जरा  छुपाते  रहिएगा

इतराये कभी चाँद अपने इकलौते  होने पर
तब  खुद  से  उसे  रु-बरु  कराते   रहिएगा

लोग  जलते  बहुत   है   हुस्नगरों  से  यहाँ
आँखों  में  काजल   सदा  लगाते  रहिएगा

वस्ल मयस्सर न हुई हमें हकीकत में  मग़र
ख़्वाबों   में   कभी-कभार   आते  रहिएगा


Romantic Love Poems in Hindi: Khushi Ka Apse Aisa Gahra Nata Rahe

खुशियों  का आपसे  ऐसा गहरा नाता रहे

खुशियों  का आपसे  ऐसा गहरा नाता रहे
यह  चाँद  सा  चेहरा हमेशा मुस्कुराता रहे

आप  हँसे  तो मुरझाये फूल भी खिल उठे
आपकी  आवाज  कई  नगमें  बनाता रहे

आपकी  आँखें   है  किसी   झील  जैसी
इसमें  सपनें   अनेकों   झिलमिलाता  रहे

रुख़ को रौशन करती है आपकी  ये जुल्फें
अम्बर पर सितारों सा ये यूँही जगमगाता रहे

आपकी तबस्सुम की कायल है यह दुनिया
लब-ए-शीरीं इसे खुद पर सदा सजाता रहे

ये आँखों की काजल मानों चाँदनी रात हो
आपकी नज़रों से हर अँधेरा मिट जाता रहे

ऐसा कोई ख़्वाब न हो जो ना-मुकम्मल रहे
हो जो भी चाहत, ख़ुदा आपको दिलाता रहें


Short Love Poems for Her in Hindi: Teri Yado Ko…

तेरी यादों को दिल मे बिठाये, तुझे एक पैगाम लिखूंगा,
तू वाक़िफ़ हो सिर्फ मेरी दिल की बातों से, इस लिए इस पैगाम को गुमनाम लिखूंगा !

करवट बदलती है रातें मेरी, इनको मैं ज़रा आराम दूँ,
इसलिये इन्तज़ार में तेरे, एक नया शाम लिखूंगा !

करनी हो गर इज़हार अपने मोहब्बत की तुझसे,
तो ये चान्द-तारे नहीं, मैं अपनी जान लिखूंगा !

सलामत रहे सदा आँचल तुम्हारे जिश्मों पर,
ऐसा एक खत मैं अपने खुदा के नाम लिखूंगा !

ना खौफ मुझे इस समाज के बनाये नियमों का,
अपने प्यार का इज़हार मैं सरे-आम लिखूंगा !

ना हुए है, और ना होगी तू ज़ुदा मुझसे कभी,
ऐसी मिसाल मैं एक बार नहीं, हर बार लिखूंगा !!

Leave a Comment